यूपी की प्राइमरी स्कूलों में अब पाली जाएंगी भैंसे

यूपी की प्राइमरी स्कूलों में अब पाली जाएंगी भैंसे

लखनऊ। योगी सरकार प्राइमरी स्कूल में शिक्षा का स्‍तर सुधारने में भले ही सक्रिय न दिख रही हो लेकिन बच्‍चों की सेहत सुधारने के लिए एक जोरदार कदम उठाया है। बेसिक शिक्षा विभाग के स्कूलों में बच्चों को मिड-डे मील के साथ शुद्ध दूध देने की कवायद तेज कर दी गई है। इसके लिए परिषद के स्कूलों में भैंसें पाली जाएंगी। इस कार्य में पशुपालन विभाग बेसिक शिक्षा विभाग का सहयोग करेगा। इससे बच्चों को शुद्ध दूध मिल सकेगा। भैंस के रखरखाव के लिए जरूरी प्रशिक्षण भी दिया जाएगा।

दूध सही मिले इस लिए हुआ फैसला
प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बाद शिक्षा में सुधार को सर्वोच्च प्राथमिकता में शामिल किया गया है। इसके साथ ही बच्चों की सेहत में सुधार हो और उन्हें अच्छा खान-पान मिले, इस पर भी पूरा ध्यान दिया जा रहा है। फिलहाल मिड-डे मील के मेन्यू के मुताबिक बच्चों को सोमवार को दूध दिए जाने की व्यवस्था है लेकिन दूध की शुद्धता की कोई गारंटी नहीं है। इसी संबंध में अब यह निर्णय लिया गया है कि प्राइमरी स्कूलों में भैंस पाली जाएं। बताया गया है कि भैंस के रखरखाव के लिए जो व्यवस्था बनाई जा रही है उसके अन्तर्गत भैंस को चारा पानी देने की जिम्मेदारी ग्राम पंचायत की होगी। अभी भी मिड-डे मील का बजट ग्राम प्रधान व हेडमास्टर मिलकर खर्च करते हैं। यह भी बताया गया है कि इसके लिए स्कूलों में कर्मचारी भी रखे जाएंगे। शुरुआत में 50 बच्चों पर एक भैंस पालने की योजना है। शिक्षकों की यह जिम्मेदारी होगी कि वह भैंस का दूध निकालकर बच्चों को शुद्ध दूध उपलब्ध कराएं।

Share this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *