डीएम गोंडा ने की पहल प्राथमिक विद्यालय बना हाईटेक

    0
    34

    डीएम ने स्कूल धौरहरा प्राथमिक विद्यालय की वेबसाइट लांन्च की, आधुनिक शैक्षिक सुविधाओं से लैस हुआ प्राथमिक विद्यालय धौरहरा

    अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस जनपद के एक मात्र आदर्श प्राथमिक विद्यालय धौरहरा तहसील करनैलगंज में बृहस्पतिवार को पहुंचकर जिलाधिकारी जेबी सिंह ने विद्यालय की वेबसाइट लान्च की तथा स्कूल परिसर का निरीक्षण भी किया तथा बच्चों से बात भी की। बतातें चलें कि तहसील करनैलगंज अन्तर्गत प्राथमिक विद्यालय धौरहरा के प्रधानाध्यापक रवि प्रताप सिंह की व्यक्तिगत पहल और प्रयासों से इस प्राथमिक विद्वालय की ख्याति न केवल प्रदेश स्तर पर हुई है बल्कि देश-विदेश मेें भी यह स्कूल सुविधाओं एवं गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के लिए मशहूर हुआ है। आलम यह रहा कि इस विद्यालय में दाखिले के लिए जगह ही नहीं बची। विद्यालय के प्रधानाचार्य के स्वयं के प्रयासों से अब विद्यालय की वेबसाइट डब्लू डब्लू डब्लू डाॅट धौरहरा स्कूल डाॅट काॅम लान्च कर दी गई है जिस पर विद्यालय की समस्त जानकारियां तथा व्यवस्थाओं को अपलोड किया गया है।

    जिलाधिकारी जेबी सिंह ने क्लिक कर विद्यालय की वेबसाइट लान्च की। विद्यालय में प्रधानाध्यापक द्वारा की गई हाईटेक व्यवस्थाओं से प्रसन्न जिलाधिकारी ने प्रधानाध्यापक की प्रशंसा की। ज्ञात हुआ कि इस विद्यालय में 283 बच्चे है जिनके सापेक्ष कुल नौ शिक्षक तैनात हैं। गौरतलब है कि इस विद्यालय में बेहतर शैक्षिक वातावरण उपलब्ध कराने के लिए नियमित प्रार्थना सभाओं, गतिविधि आधारित शिक्षा, आधुनिक शैक्षिक सामग्री के माध्यम से शिक्षण कार्य, बेसिक शिक्षा के पाठ््यक्रम के साथ-साथ एनसीआरटी की पुस्तकों से भी शिक्षण कार्य, छात्रों के चहुंमुखी विकास पर जोर, ग्रीन क्लास पद्धति, छात्र-छात्राओं के लिए विभिन्न प्रकार की प्रतियोगिताओं का नियमित आयोजन, पर्सनालिटी डेवलेपमेन्ट, विद्यालय में सीसीटीवी, कम्प्यूटर सुविधा सहित तमाम आधुनिक सुविधाओं से लैस किया गया है। धौरहरा विद्यालय को संयुक्त राष्ट्र संघ के समुदाय में स्थान, जिले के आदर्श विद्यालय के रूप में चयन, प्रदेश के शैक्षिक कैलेण्डर में विद्यालय की गतिविधियों को स्थान, राष्ट्रीय डालिफन मेला एंव कैम्प में विद्यायल का चयन में आयोजित प्रतियोगिता में छात्रों को द्वितीय स्थान, सयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम के अन्तर्गत विद्यालय को प्रशस्ति पत्र, विद्यलाय को गूगल मैप पर स्थान, पर्यावरण शिक्षण के क्षेत्र में सरहानीय कार्य हेतु पर्यावरण शिक्षण केन्द्र जल संसाधन एवं पर्यावरण मंत्रालय व राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन द्वारा विद्यालय को प्रशस्ति पत्र, विश्व गौरैया संरक्षण सूची में स्थान, पर्यावरण के क्षेत्र में कार्य करने पर वांशिगंटन से प्रमाणपत्र तथा ब्रिटिश काउन्सिल से सहशिक्षा हेतु सम्बद्धता किया जा चुका है। जिलाधिकारी ने वेबसाइट लान्च करने के उपरान्त विद्यालय के बच्चों से सीधे संवाद स्थापित किया तथा उनसे कई सवाल किए। इसके उपरान्त डीएम ने विद्यालय परिसर में पौधरोपण भी किया तथा दीवाल पर पेन्अिंग भी बनाई।
    वेबसाइट लान्चिंग के अवसर पर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी संतोष कुमार देव पाण्डेय, खण्ड शिक्षा अधिकारी अनिल झा, प्रधानाध्यापक रवि प्रताप सिंह, ग्राम प्रधान तथा स्कूल के बच्चे मौजूद रहे

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here